शादी करवाने के नाम पर खरीदती थी लड़कियों को, धकेलती थी सेक्स रैकेट में। जी हां शादी के बहाने महिलाओं की खरीद-फरोख्त का मामला सामने आया है। जहां महिलाओं को शादी का झांसा देकर उन्हे बेच दिया जाता था।

इंटर स्टेट ह्यूमन ट्रैफिकिंग से जुड़ा होना सामने आया है। गिरोह के लोग अलग-अलग प्रदेशों से गरीब महिलाओं को शादी का झांसा लाकर बेचते थे। मामले में पुलिस ने अब तक चार लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं गिरोह की मुख्य सरगना नगर सुरक्षा समिति सदस्य खुद को टीआई बताकर महिलाओं की खरीद-फरोख्त करवाती

पुलिस ने शुक्रवार को आगर के सोयत में नसुस सदस्य राधा सुतार को गिरफ्तार कर महिलाओं की बेचने-खरीदने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया था। इनके पास से महाराष्ट्र अकोला की एक महिला को भी छुड़वाया गया था। गिरोह इस महिला की जबर्दस्ती शादी करवा रहा था। पुलिस ने गिरोह से जुड़े राधा सुतार के दामाद कमल सुतार निवासी मालूखेड़ा राघवी व अकोला के ही जाम गांव की ललिता खराड़े को पकड़ा है।
Also Read:   एक गांव ऐसा जहां बेटा होने पर मनाते हैं शोक
1 2
No more articles