बहराइच में 20 रुपये के लिए एक मासूम की जान ले ली गई। उत्तर प्रदेश के बहराइच के जिला अस्पताल में एक स्वीपर ने बच्चे को इंजेक्शन लगाने के लिए परिवार वालों से 20 रुपए की मांग की। बच्चे के घरवालों ने जब पैसे देने मना कर दिया तो उसने बच्चे को इंजेक्शन नहीं दिया। परिणामस्वरूप इलाज के अभाव में मासूम की मौत हो गई। इससे गुस्साए घरवालों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया। स्वीपर को हटाए जाने और पूरे मामले की जांच के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ। परिवार वालों का आरोप था कि अस्पताल में डॉक्टर के न होने पर स्वीपर ही इंजेक्शन लगा रहा था।

Also Read:   लव मैरिज ने बर्बाद की ज़िंदगी, लगाया ठेला, आज 2 लाख रोज़ कमाती हैं

बहराइच के खमरिया गांव के रहने वाले कृष्णा (10 माह) को कई दिनों से बुखार था। दो दिन पहले उल्टी दस्त की शिकायत होने पर उसकी मां सुमिता ने उसे बहराइच के जिला अस्पताल में भर्ती कराया। यहां पर डॉक्टरों ने खून की कमी होने की बात कहते हुए उसका इलाज शुरू किया। हर रात बच्चे को एक इंजेक्शन लगता था। सोमवार रात सुमिता ने वार्ड में मौजूद स्वीपर पवन कुमार से इंजेक्शन लगाने के लिए कहा। इस पर उसने 20 रुपए की मांग की।
सुमिता ने पैसे सुबह देने को कहा तो स्वीपर ने इंजेक्शन लगाने से इनकार कर दिया। वह इंजेक्शन भी सुबह लगाने की बात कहकर वहां से चला गया। इंजेक्शन न लगने क वजह से मंगलवार सुबह कृष्णा की मौत हो गई। इस बात पर परिजनों व तीमारदारों ने लापरवाही व अवैध वसूली के विरोध में जाम लगाकर हंगामा शुरू कर दिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची बहराइच पुलिस ने किसी तरह समझा कर लोगो को शांत कराया।

Also Read:   बाघ के हमले से घायल इस व्यक्ति ने 20 साल बाद हटाया अपने चेहरे से नकाब
No more articles