बसपा अध्यक्ष मायावती पर पलटवार करते हुए भाजपा ने आज आरोप लगाया कि वह दलितों के नाम पर सिर्फ राजनीति करने की इच्छुक हैं और उत्तर प्रदेश में दलित समुदाय के लोगों के खिलाफ अपराध के कई मामले हुए लेकिन मायावती उन परिवारों के घर नहीं गईं।

Also Read:   रेलवे स्टेशन पर महिलाओं ने चूड़ियां दिखाकर किया केजरीवाल का विरोध

मायावती उना में दलितों की पिटाई के पीड़ितों के परिवारों के यहां गईं और भाजपा पर निशाना साधा था।

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने आरोप लगाया कि मायावती ने उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ समझौता कर लिया है।

Also Read:   1200 रुपए की सैलेरी कमाने वाला ये सेल्समैन निकला करोड़पति

उन्होंने कहा, ‘‘उनके दोहरे मापदंड हैं। जब वह सत्ता में थीं तो दलितों के खिलाफ अत्याचार के 30,000 से अधिक मामले सामने आए। कन्नौज में एक दलित परिवार को कुचल दिया गया और पुलिस गोलीबारी में एक व्यक्ति मारा गया लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया। अब वह घड़ियाली आंसू बहा रही हैं।’’

Also Read:   कड़वा सच, भारतीय सेना महज 15 दिन ही कर सकती है पाकिस्तान का सामना! जानें क्यों?

No more articles