बसपा अध्यक्ष मायावती पर पलटवार करते हुए भाजपा ने आज आरोप लगाया कि वह दलितों के नाम पर सिर्फ राजनीति करने की इच्छुक हैं और उत्तर प्रदेश में दलित समुदाय के लोगों के खिलाफ अपराध के कई मामले हुए लेकिन मायावती उन परिवारों के घर नहीं गईं।

Also Read:   Bangladesh liberation war: The 'article' that changed the course of history

मायावती उना में दलितों की पिटाई के पीड़ितों के परिवारों के यहां गईं और भाजपा पर निशाना साधा था।

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने आरोप लगाया कि मायावती ने उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ समझौता कर लिया है।

Also Read:   दिया ऐसा लव बाइट कि जोड़ीदार की चली गई जान

उन्होंने कहा, ‘‘उनके दोहरे मापदंड हैं। जब वह सत्ता में थीं तो दलितों के खिलाफ अत्याचार के 30,000 से अधिक मामले सामने आए। कन्नौज में एक दलित परिवार को कुचल दिया गया और पुलिस गोलीबारी में एक व्यक्ति मारा गया लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया। अब वह घड़ियाली आंसू बहा रही हैं।’’

Also Read:   कंगारुओं की इतनी फनी लड़ाई आपने पहले कभी नहीं देखी होगी

No more articles