बसपा अध्यक्ष मायावती पर पलटवार करते हुए भाजपा ने आज आरोप लगाया कि वह दलितों के नाम पर सिर्फ राजनीति करने की इच्छुक हैं और उत्तर प्रदेश में दलित समुदाय के लोगों के खिलाफ अपराध के कई मामले हुए लेकिन मायावती उन परिवारों के घर नहीं गईं।

Also Read:   परमाणु हमले की खबरों से ना घबराएं, यदि हमला हुआ तो ऐसे करें अपना बचाव-देखें वीडियो

मायावती उना में दलितों की पिटाई के पीड़ितों के परिवारों के यहां गईं और भाजपा पर निशाना साधा था।

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने आरोप लगाया कि मायावती ने उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ समझौता कर लिया है।

Also Read:   गूगल मैप में पीओके, बलूचिस्तान भारतीय क्षेत्र का हिस्सा

उन्होंने कहा, ‘‘उनके दोहरे मापदंड हैं। जब वह सत्ता में थीं तो दलितों के खिलाफ अत्याचार के 30,000 से अधिक मामले सामने आए। कन्नौज में एक दलित परिवार को कुचल दिया गया और पुलिस गोलीबारी में एक व्यक्ति मारा गया लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया। अब वह घड़ियाली आंसू बहा रही हैं।’’

Also Read:   सोनम कपूर भी बचपन में हो चुकी हैं यौन शोषण की शिकार!

No more articles